Anushka Sharma Movie Bulbul: दादा-दादी की कहानियों पर बेस्ड है अनुष्का शर्मा की फ़िल्म


अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) के प्रोडक्शन हाउस के बैनर तले बनी फिल्म ‘बुलबुल'(
Bulbbul) 24 जून को नेटफ्लिक्स (Netflix) पर रिलीज होने वाली है. इस फिल्म का ट्रेलर सस्पेंस और थ्रिलर से भरपूर है. बुलबुल फिल्म एक लड़की की कहानी पर आधारित है, जिसकी शादी बचपन में ही कर दी जाती है. इसके साथ ही फिल्म में चुड़ैल का भी जिक्र आता है. इस  फिल्म में तृप्ति डिमरी, राहुल बोस, अविनाश तिवारी, परमब्रता चटर्जी और पाउली दास ने अहम भूमिका निभाई है. इसके साथ ही फिल्म का लेखन और निर्देशन अनविता दत्त ने किया है. ऐसे में बुलबुल से जुड़े सभी कलाकारों ने एनडीटीवी इंडिया से खास बातचीत की, जिसमें उन्होंने फिल्म और करियर के बारे में भी काफी कुछ बताया.

‘बुलबुल’ (Bulbbul)  फिल्म से डायरेक्शन में डेब्यू करने वाली अनविता दत्त (Anvita Dutt) से पूछा गया कि लेखन और निर्देशन में क्या मुश्किल है और दोनों में क्या अंतर है. उन्होंने कहा, “मूल रूप से हमारा काम कहानी सुनाना है और दोनों ही एक तरह से कहानी कहना ही है. दोनों में ही उतनी मेहनत लगती है. लेकिन लेखन से मुझे डायरेक्शन में मदद मिली है.” बुलबुल की कहानी के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा, “मुझे इसकी प्रेरणा बचपन की कहानियों से मिली, जो आपको मां या नानी और दादी सुनाती हैं. ऐसे में मुझे लगा कि वैसी कहानी सुनाऊं, जिसमें थोड़ा डर हो, थोड़ा दुख हो और आप उसमें बंध जाओ.” अनविता दत्त से पूछा गया कि ओटीटी प्लेटफॉर्म के लिए कहानी लिखते समय किन बातों का ध्यान रखना होता है. इसपर उन्होंने कहा, “कहानी कहानी होती है, चाहे वह किसी भी प्लेटफॉर्म के लिए हो.” इसके साथ ही अन्विता ने कहा कि मैं अब डायरेक्शन पर ज्यादा ध्यान दूंगी, लेकिन मैं लोगों के लिए गाने लिखूंगी.

‘बुलबुल’ (Bulbbul) फिल्म को लेकर इसके को-प्रोड्यूसर और अनुष्का शर्मा के भाई कर्णेश शर्मा (Karnesh Sharma) से भी बात की गई. उन्होंने अपनी और अनुष्का शर्मा के क्रिएटिव डिफ्रेंस के बारे में बात करते हुए कहा, “शुरुआत में तो नहीं और मुझे लगता है कि क्रिएटिव डिफ्रेंस होना जरूरी है क्योंकि उससे कहानी अच्छी होती है. ये चीज होती है हमारे बीच में और हम उसे रचनात्मकता के तौर पर प्रयोग करते हैं.” कर्णेश ने इंटरव्यू में बताया कि किसी कहानी को चुनते समय हमारा ध्यान सुलझी हुई और सबको पसंद आने वाली कहानी पर होती है. इसके साथ ही कर्णेश शर्मा ने कहा कि बुलबुल की कहानी ही वह खास बात है जिसके लिए हमने इसे प्रोड्यूस करने के बारे में सोचा. कर्णेश शर्मा ने ओटीटी प्लेटफॉर्म के आने से कलाकारों की जिंदगी में आए बदलाव के बारे में भी बात की. उन्होंने कहा, “ये हमें कहानी बताने का एक और जरिया देता है. इससे लोगों को अवसर मिले हैं, चाहे वह एक्टर हों या फिर तकनीशियन हों.”

S

Leave a Reply