July 29, 2021

Avinash Bharat

ख़बर जन सरोकार की

श्रीराम के वंशज मुसलमान कैसे?

ayodhyarammandir

rammandirayodhya

son in law of descendents of Lavkush is muslim?: अयोध्या मामले पर शुक्रवार को कोर्ट में सुनवाई के दौरान जज ने वकील से अयोध्या में श्रीराम के वंशज मौजूद होने का प्रमाण क्या पूछा कि क्या देशभर में अपने आप को श्रीराम के वंशज बताने वालों की फ़ौज खड़ी हो गई.

आपको बता दें, अब अदालत में राम मंदिर को लेकर हफ्ते भर में पांच दिन सुनवाई चल रही है जिसमें रामलला विराजमान, निर्मोही अखाड़ा व सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील अपने अपने-अपने तरीके से दलील देकर मामले को अपने पाले में खींचने में लगे हैं.

एक तरफ जहां भाजपा सांसद और जयपुर की पूर्व राजकुमारी दिव्या कुमारी ने दावा ठोंक रहीं हैं और वो और उनके परिजन भगवान राम के वंशज हैं. वहीं, दूसरी और पाकिस्तान के क्रिकेटर हसन अली से अपनी बेटी शामिया आरजू की शादी तय करने जा रहे लियाकत अली खुद को भगवान राम और कृष्ण का वंशज बताते हैं.

उनके इस बयान पर 2017 में एक नई बहस छिड़ गई थी कि क्या वाकई मेव मुस्लिम भगवान राम और कृष्ण के वंशज हैं? लियाकत अली ने तब दावा किया था कि मेवात में दहंगल गोत्र के लोग भगवान राम के वंशज जबकि छिरकलोत गोत्र के लोग यदुवंशी हैं.

लियाकत अली मेवात के पूर्व खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी रह चुके हैं. उनकी बेटी शामिया आरजू एयर अमीरात में फ्लाइट इंजीनियर हैं, जिनका पाकिस्तानी क्रिकेटर हसन अली से निकाह होने जा रहा है. नूंह के पास चंदैनी गांव के रहने वाले लियाकत ने खुद को दहंगल गोत्र से जुड़ा बताया था.