कहते हैं- उपर भगवान और नीचे डॉक्टर! डॉक्टर को हमारी सभ्यता में भगवान का दर्जा दिया गया है. इसलिए 1 जूलाई को देशभर में डॉक्टर्स डे के रुप में मनाया जाता है. डॉक्टर्स अपने बल-बूते और शैक्षणिक सामर्थ्य के दम पर हमारे जीवन की रक्षा करते हैं. हम जब भी गंभीर रुप से बिमार पड़ते हैं तो हमें डॉक्टर्स की आवश्यकता जरुर पड़ती है. आज डॉक्टर्स डे के उपलक्ष्य में आज हम आपको ऐसी बातें बतायेंगे जो आपके लिए जानना बेहद जरुरी है.

  1. 1 जूलाई 1882 को पश्चिम बंगाल के दूसरे मुख्यमंत्री डॉ. विधान चन्द्र राय का जन्म हुआ था. उनके जन्म के 80 साल बाद ठीक इसी दिन यानि 1 जूलाई 1962 को उनकी मृत्यू हो गई थी. जिन्हें मेडिकल क्षेत्र में उपलब्धि के लिए 1961 में सर्वोच्च सम्मान यानि “भारत रत्न” से नवाजा गया था. जिनके सम्मान में प्रत्येक वर्ष राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस (National doctors day) मनाया जाता है.
  2. डॉक्टर्स डे दुनिया के तमाम देशों में अलग-अलग दिन अलग- अलग तरीकों से मनाया जाता है. ब्राजील (18 अक्टूबर), कैनडा (1 मई), मलेशिया (10 अक्टूबर) डॉक्टर्स डे के रुप में मनाया जाता है.

डॉक्टर्स डे भले ही अलग-अलग देशों में अलग- अलग दिन और अलग-अलग तरीकों से मनाया जाता है. लेकिन इन सभी का मकसद लगभग एक ही होता है. इन सभी डॉक्टर्स के उपलब्धियों को याद कर उन्हें उचित सम्मान देना.  

Leave a Reply